Motivational India

Abraham Lincoln Biography In Hindi | अब्राहम लिंकन जी का जीवनी

Abraham Lincoln Biography In Hindi

दोस्तों हम आपके साथ शेयर कर रहे हैं  Abraham Lincoln Biography In Hindi   अब्राहम लिंकन की जीवनी. इनके जिंदगी के बारे में जानकार शायद आप भी inspire हो सके और एक अच्छे और कामयाब इंसान बन सके.

Abraham Lincoln अब्राहम लिंकन , अमेरिका के सौलह्वे और सबसे शक्तिशाली राष्ट्रपति थे | अमेरिका में जितना दुसरे राष्ट्रपतियों का जिक्र नही किया जाता है उतना तो केवल अब्राहम लिंकन का किया जाता है | अब्राहम लिंकन ने देश की एकता के लिए जान दे दी थे जिनकी हत्या कर दी गयी थी | आज हम आपको उसी महान राष्ट्रपति की सम्पूर्ण जीवनी से रूबरू करवाते है |

 

Early Life of Abraham Lincoln Biography in Hindi

Abraham Lincoln का जन्म 12 फरवरी 1809 ई. को अमेरिका के केंचुकी नामक स्थान में एक गरीब किसान के घर हुआ था | उनके पिता का नाम टामस लिंकन एंव माता का नाम नैन्सी लिंकन था | जब वे मात्र 9 वर्ष के थे उनकी मां का देहांत हो गया, जिसके बाद उनके पिता ने दूसरी शादी कर ली |

शायद यही कारण था कि लिंकन धीरे-धीरे अपने पिता से दूर होते चले गए | उनके माता-पिता अधिक शिक्षित नहीं थे इसलिए लिंकन की प्रारंभिक शिक्षा ठीक से नहीं हो सकी | किन्तु, कठिनाइयों पर विजय हासिल करते हुए उन्होंने न केवल अच्छी शिक्षा अर्जित की, बल्कि वकालत की डिग्री पाने में भी कामयाब रहे ।

 

17 वर्ष में उन्होंने एक नाविक की नौकरी कर ली | २१ वर्ष की उम्र में एक बड़ी नाव पर नौकरी की और नई औरलेंस गए वह से लौटकर एक दूकान में नौकरी की | यहं काम करते हुए उन्हें  राजनीती की कुछ जानकारी हो गयी | और १८३२ में वह स्यम सतहनिय शासन  के उम्मीदवार हो गए पर अब्राहम लिंकन को बहुत बुरी तरह हारना पढ़ा |लिंकन  शुरू से ही दास प्रथा के विरोधी थे इसके लिए उन्हें पुरे जीवन संघर्ष भी करना पढ़ा |

Abraham Lincoln अब्राहम लिंकन जब बड़े हुए तो वो कुछ ऐसा रोजगार करना चाहते थे जिससे कम मेहनत में ज्यादा मुनाफा मिल सके | अब ऐसे ही रोजगार की खोज में लिंकन संगमो शहर आ गये | अब उस समय पढ़े लिखे लोगो के लिए कोई ऐसा रोजगार नही था जिससे अच्छी कमाई हो सके |

इसलिए उसने बचपन में सीखे हुए काम का इस्तेमाल कर एक नाव बनाई और नौकावाहक बनकर माल ढोने का काम शुरू कर दिया | अब वो बड़े व्यापारियों का माल एक जगह से दुसरी जगह ले जाने का काम करने लगा था जिससे उसको अच्छा मुनाफा हो रहा था |

एक दिन उसके नाव को लुटेरो ने घेर लिया | लुटेरो को तो लिंकन Abraham Lincoln ने अपनी बहादुरी से भगा दिया लेकिन एल लुटेरा लिंकन को घायल कर गया जो निशान उनकी आँख के नीचे हमेशा रहा था |

 

Abraham Lincoln लिंकन वैसे तो महिलाओ से दूर ही रहते थे लेकिन 24 वर्ष की उम्र में उन्हें रूटलेज नामक लडकी से प्यार हो गया था लेकिन उनके जीवन में प्यार नही लिखा था | इसलिए कुछ दिनों बाद ही रूट लेज एक गम्भीर बीमारी के चलते इस दुनिया को अलविदा कह गयी | Abraham Lincoln लिंकन को अपनी प्रेमिका की मौत से गहरा सदमा पहुचा था और घंटो अपनी प्रेमिका की कब्र के पास बैठकर अपने प्यार की मौत में आसू बहाया करते थे | अब उनके एक मित्र बोलीन ग्रीन ने इस मुशिकल मौके पर उनको ढांढस बंधाया | धीरे धीरे लिंकन इस सदमे से बाहर आये और सर्वेक्षण अधिकारी के रूप में कम करते हुए काफी पैसा कमाया था |

 

राजनीतिक कैरियर

 

6 नवम्बर 1860 को अमेरिका के 16वें राष्ट्रपति निर्वाचित होने के बाद लिंकन ने ऐसे महत्त्वपूर्ण कार्य किए जिनका राष्ट्रीय ही नहीं अन्तर्राष्ट्रीय महत्व भी है | लिंकन की सबसे बड़ी उपलब्धि अमेरिका को ग्रह-युद्ध से उबारना था | इस कार्य हेतु 1865 ई. में अमेरिका के संविधान में 13वें संशोधन द्वारा दास-प्रथा के अन्त का श्रेय भी लिंकन को ही जाता है | लिंकन एक अच्छे राजनेता ही नहीं, बल्कि एक प्रखर वक्ता भी थे |

प्रजातंत्र की परिभाषा देते हुए उन्होंने कहा, ‘प्रजातंत्र जनता का, जनता द्वारा, जनता के लिए शासन है |’ वे राष्ट्रपति पद पर रहते हुए भी सदा न केवल विनम्र रहे, बल्कि यथासंभव गरीबों की भलाई के लिए भी प्रयत्न करते रहे | दास-प्रथा के उन्मूलन के दौरान अत्यधिक विरोध का सामना करना पड़ा, किन्तु अपने कर्तव्य को समझते हुए वे अंततः इस कार्य को अंजाम देने में सफल रहें |

Abraham Lincoln Biography In Hindi

अमेरिका में दास-प्रथा के अंत का अन्तर्राष्ट्रीय महत्त्व इसलिए भी है कि इसके बाद ही विश्व में दास-प्रथा के उन्मूलन का मार्ग प्रशस्त हुआ | अपने देश में इस कुप्रथा की समाप्ति के बाद विश्व के अन्य देशों में भी इसकी समाप्ति में उनकी की भूमिका उल्लेखनीय रही.

 

 Family Life of Abraham Lincoln in Hindi

कुछ दिनों बाद उनकी जिन्दगी में मेरी टॉड नानक युवती आयी जो एक बड़े घराने की युवती थी | उनके पिता का नाम रोबर्ट टॉड था जिनके परिवार के सदस्य उच्च पदों पर आसीन थे | अब अपने उच्च कुलीन परिवार के कारण उनके मन में भी अपने होने वाले पति के उच्च पद पर आसीन होने की कामना रखती थी |

अब उसकी महत्वकंशा इतनी ज्यादा थी कि उसने ये घोषणा कर दी थी “मै उसी आदमी से विवाह करूंगी जो अमेरिका का राष्ट्रपति बने क्योंकि मै वाइट हाउस में रहना चाहती हु ” | उसके परिवार के लोग उसे सनकी माना करते थे जिसके कारण लोग उसका उपहास उड़ाया करते थे |

अब मेरी का रिश्ता उसके परिवार वालो ने एक धनी परिवार में कर दिया लेकिन मेरी वो रिश्ता ठुकराकर घर छोडकर अपनी बड़ी बहन के यहाँ स्प्रिंगफील्ड आ गयी | Abraham Lincoln लिंकन यहा पर पहले से ही विधानसभा सदस्य थे और मेरी टॉड के बहनोई भी विधानसभा सदस्य थे | इस तरह दोनों ही अच्छे दोस्त थे | अब मेरी की मुलाकात लिंकन और डगलस से हुयी जिसमे डगलस राजीनीति में माहिर इन्सान थे |

How to motivate yourself in hindi खुद को हमेशा motivate कैसे रखे?

मेरी को ऐसा लग रहा था कि डगलस राष्ट्रपति पद के लिए सही उम्मीदवार हो सकते है इसलिए उसने डगलस से विवाह करने का विचार बनाया | इसी दौरान एक दिन मेरी ने लिंकन का भाषण सुन लिया जिसमे उसको सच्चे इन्सान लगे थे | अब मेरी दो इंसानों में फसी हुयी थी और उसे फैसला करना था इसलिए उसने के पार्टी का आयोजन किया

इस पार्टी में मेरी ने लिंकन Abraham Lincoln को भी आमंत्रित किया | अब यहा पर उनके बीच बाते हुयी और दोनों ने एक दुसरे को जानना शुरू कर दिया | धीरे धीरे उन दोनों में प्रेम इतना बढ़ गया कि मेरी ने आख़िरकार लिंकन को अपना जीवनसाथी चुनने का विचार बना लिया |

मेरी के परिवार के लोगो को ये रिश्ता पसंद नही आया लेकिन मेरी की जिद के आगे शादी की तारीख तय कर दीगयी | अब शादी को केवल 6 महीने थे और मेरी चाहती थी कि लिंकन सजधज कर रहे लेकिन लिंकन को साधारण रहना पसंद था | अब मेरी के इस व्यवहार से थोड़े परेशान थे लेकिन वो एकदम मना नही करना चाहते थे |

अब शादी का दिन आ गया था लेकिन लिंकन कही नजर नही आ रहे थे | रात भर लिंकन Abraham Lincoln को खोजा गया लेकिन लिंकन कही नजर नही आये | अगले दिन वो कार्यालय की सीढियों पर बैठे मिले जहा पर वो डिप्रेशन में चले गये थे |

अब लिंकन के दोस्तों ने लिंकन को सम्भाला उधर मेरी भी शादी ना होने पाने के कारण बीमार हो गयी थी | अब धीरे धीरे समय बीतता गया और दोनों के स्वास्थ्य में सुधर होने लगा था | अब लिंकन के दोस्त की वजह से फिर वो दोनों शादी के लिए राजी हुए और 1842 में उन दोनों की सफलतापूर्वक शादी हो गयी | मेरी के उग्र स्वभाव के बाबजूद लिंकन उन्हें सहन करते थे | Abraham Lincoln और मेरी के 4 बच्चे भी थे.

Abraham Lincoln Biography In Hindi

लिंकन(Abraham Lincoln) एक निपुण , चतुर एवं हास्यप्रिय नेता थे | 4 मार्च 1865 को जब युद्ध समाप्ति की ओर था तो उन्होंने राष्ट्रपति पद की दुसरी बार शपथ ली | उन्होंने अपने भाषण में कहा कि पराजित विद्रोही राज्यों के साथ सहानुभूति दिखाई जाए |

उन्होंने युद्ध की मार झेल चुके राष्ट्र के नवनिर्माण में जी जान लगा दिया | 14 अप्रैल 1865 को लिंकन वाशिंगटन डीसी के फोर्ड थिएटर में एक नाटक देख रहे थे वही उनकी हत्या कर दी गयी | वो पहले अमेरिकी राष्ट्रपति थे जिनकी हत्या की गयी | उनकी अंतिम शवयात्रा में हजारो प्रशंशक सर झुकाए चल रहे थे |

अमेरिका में दास प्रथा को समाप्त करने एवं उसे एक नया रूप दें के लिए अब्राहम लिंकन (Abraham Lincoln) को आज भी स्मरण किया जाता है | उन्हें उनके चरित्र , भाषणों एवं पत्रों के लिए भी याद किया जाता है जो कि पुरी दुनिया के लिए प्रेरणा स्त्रोत रहे है |

एक साधारण व्यक्ति से महामानव बनने की यात्रामे भी अब्राहम लिंकन (Abraham Lincoln) ने अपनी विन्रमता नही छोडी.

 

Abraham Lincoln की जीवनी से सीखने  को मिलता है जो बिना कठिनाईओ की परवाह किये आगे बढ़ता जाता है उसे एक न एक दिन अपना लक्ष्य जरूर मिलता है.

आपको Abraham Lincoln Biography In Hindi  कैसी लगी हमें कमेंट द्वारा ज़रूर बताए.

 

Search Term : Abraham Lincoln Biography In Hindi, Abraham Lincoln, Abraham Lincoln childhood, Abraham Lincoln career, Abraham Lincoln Family.

2 thoughts on “Abraham Lincoln Biography In Hindi | अब्राहम लिंकन जी का जीवनी

    1. John Wilkes Booth, a highly popular stage actor in the US at that time was the assassin who killed Abraham Lincoln.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *